लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब की स्पीड कैसे बढ़ाए | How to Increase Laptop, Desktop and Tablets speed

Laptop
लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब की स्पीड कैसे बढ़ाए | How to Increase Laptop, Desktop and Tablets speed

स्पीड बढ़ाने के तरीके (Ways to increase computer speed)

कॉरोना काल से पहले व्यक्ति लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब आदि पर इतना निर्भर नहीं था जितना कोरोना काल के दौरान हुए परिवर्तन के परिणाम स्वरूप हुआ है। निर्भरता का मुख्य कारण आवश्यकता या मनोरंजन रहा है।

विद्यार्थियों की पढ़ाई ऑफलाइन के स्थान पर ऑनलाइन शुरू हो गई परिणाम स्वरूप शिक्षा के लिए लैपटॉप, डेस्कटॉप टैब या फोन में से किसी एक चीज़ को उपलब्ध कराना अवश्यक हो गया। समभतः जो लोग अफोर्ड कर सकते थे उन लोगों ने फोन की जगह लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब से ऑनलाइन कलास लेना शुरू किया। वर्तमान में स्थिति यह है कि स्कूल खुलने के बाद भी स्टूडेंट के लिए अपनी ऑनलाइन स्टडी करना आदत या आवश्यकता बन चुकी है।

नौकरी करने वाले लोग तो पहले से ही लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब पर काम कर रहे थे लेकिन कोरोना काल के दौरान वह काम जो बिना लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब के माध्यम से हो रहे थे वह भी अब लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब के माध्यम से अर्थात ऑनलाइन होने लगें हैं। परिणाम स्वरूप यह स्पष्ट रूप से कहा जा सकता है कि प्रत्येक व्यक्ति जो लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब का इस्तेमाल करता है वह चाहता है कि उसके लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब की स्पीड बहुत अच्छी हो ताकि काम सरलता व बिना किसी देरी के किया जा सकें।

कुछ परिवार ऐसे भी मौजूद हैं जहाँ एक ही कम्पयूटर या लेपटॉप है। उस पर पढ़ाई व नौकरी दोनों से जुड़े कार्य होने के कारण कम्पयूटर या लेपटॉप पर अधिक लॉड हो जाता है। परिणाम स्वरूप स्पीड कम होना मुमकिन है।

लैपटॉप या कंप्युटर की स्पीड बढ़ाने के कुछ तरीके हम आपके लिए ले कर आए है:

अस्थायी फ़ाइलें (Temporary Files)

कम्पयूटर में अस्थायी फ़ाइलें अर्थात अस्थाई डाटा सेव हो जाता है। जिनका प्रयोग प्रोग्राम्स के क्रैश हो जाने पर डाटा रिकवर करने के लिए किया जाता है। इन फाइलो की संख्या बढ़ती रहती है। जैसे-जैसे फाइल बढ़ती है वैसे-वैसे स्पीड कम हो जाती है। इन फाइलों को हटाने के लिए विंडो की सी-ड्राइव ओपन करके Temp फोल्डर की फाइल को सिलेक्ट करके उन्हें डिलीट कर देना चाहिए।

रिसाइकिल बिन (Recycling bin)

जब भी हम अपनी कोई फाइल डिलीट करते हैं तो वह हमारे कम्पयूटर से पूर्ण रूप से डिलीट नहीं होती अर्थात वह फाइल हमारी डी-ड्राइव से डिलीट होकर रिसाइकिल बिन में जाकर सेव हो जाती है। जिस प्रकार इंसान अधिक भोजन करने के बाद ठीक से चल नहीं पाता उसी प्रकार हमारा कम्पयूटर भी अधिक फाइल रिसाइकिल बिन में रहने के कारण ठीक से काम नहीं कर पाता। अर्थात समय-समय पर आप अपने कम्पयूटर का रिसाइकिल बिन खाली करते रहें।

लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब आदि की सफाई (Cleaning Laptop, Desktop or Tab etc.)

लैपटॉप, डेस्कटॉप या टैब आदि को समय-समय पर साफ करना चाहिए। बाजार में गैजेट्स की सफाई करने के लिए विशेष किट मौजूद है, परिणाम स्वरूप हमें इन्ही किट का इस्तेमाल करना चाहिए। बर्तन कपड़े साफ करने वाली चीज़ो से कम्पयूटर की सफाई नहीं करनी चाहिए।

क्रैपवेयर अनइंस्टॉल करने की आवश्यकता (Need to uninstall crapware)

जब हम लैपटॉप, डेस्कटॉप खरीदते हैं तो पहले से ही लैपटॉप, डेस्कटॉप में बहुत सारे अनावश्यक सॉफ्टवेयर इंस्टॉल रहते हैं, जिसकी हमें कोई आवश्यकता नहीं होती है। क्रैपवेयर, ब्लोटवेयर, पीयूपी आदि जैसे सॉफ्टवेयर होते हैं जिन्हें हम अनस्टॉल करके लैपटॉप या कम्पयूटर आदि को खाली करके स्पीड बढ़ा सकते हैं।

आनावश्यक स्टार्टअप प्रोग्राम बंद करना चहिए (Unnecessary startup programs must be closed)

हम लैपटॉप या पीसी जब चालूं करते हैं उसी के साथ अनेक सिस्टम अपने आप ऑन हो जाते हैं जो बैकग्राउंड में चलते हैं। परिणाम स्वरूप लैपटॉप धीरे चलता है। यदि हमें अपने कंम्पयूटर या लैपटॉप की स्पीड बढ़ानी है तो आनावश्यक सभी ऐप डिसेबल कर देना चाहिए।

डिस्क क्लीन करना चाहिए (Clean disk)

हमें समय-समय पर अपने लैपटॉप या पीसी क्लीन करनी चाहिए। अधिक फोटो या वीडियो को किसी भी ऑनलाइन क्लाउड स्टोरेज में सेव कर लेना चाहिए, ताकि यह चीजे यह हमारे लैपटॉप में सेव होने के स्थान पर इंटरनेट पर सेव हो जाए। स्टोरेज कम होने के परिणाम स्वरूप स्पीड भी तेज रहेगी।

रैम बढ़ानी चाहिए (RAM should be increased)

यदि हम अपने लैपटॉप या पीसी में अधिक सॉफ्टवेयर या गेम्स इंस्टॉल करते हैं तो रैम भी अधिक खर्च होती है जिससे लैपटॉप की स्पीड कम होने लगती है। परिणाम स्वरूप आवश्यक पड़ने पर रैम बढ़ा लेनी चाहिए।

एंटीवायरस इंस्टॉल करना चाहिए (Install antivirus to increase computer speed)

वायरस से बचने के लिए व वायरस को चेक करने के लिए एंटीवायरस इंस्टॉल कर लेना चाहिए। वायरस होने के कारण भी स्पीड में फर्क पड़ता है अर्थात स्पीड कम होती है।  

निष्कर्ष (Conclusion)

इसमें कोई सन्देह नहीं है कि वर्तमान में पीसी, लैपटॉप आदि हमारी आदत ही नहीं बल्कि आवश्यकता भी बन चुकें हैं। परिणाम स्वरूप इनके रखरखाव व लम्बे समय तक उपयोगी बनाने के लिए उपाय करना आवश्यक है।

By Sunaina

साहित्यिक विडियो देखें

Leave a Comment